उदयपुरवाटीगुढ़ागोरजीचिकित्साझुंझुनूताजा खबरराजनीतिशिक्षा

सरकार व मरीजों के साथ धोखा एनपीए उठाने वाले डॉक्टर भी घर व निजी क्लीनिक में देख रहे हैं रोगी

रिपोर्टर – विकास कनवा8104481167

उदयपुरवाटी के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कई डॉक्टर घर पर मरीजों को नहीं देख ने का हवाला व शपथ पत्र देखकर सरकार को दर्द दे रहे हैं। इसके साथ ही अधिकांश डॉक्टर एनपीए उठाकर मरीजों व सरकार के साथ धोखा कर रहे हैं। हकीकत यह है कि नियमों को लांग कर डॉक्टर अस्पताल के आसपास निजी क्लिनिक और अपने घरों में रोगियों की जांच के नाम पर उनसे फीस वसूल रहे हैं। जबकि नियमानुसार एनपीए भत्ता लेने वाले डॉक्टर रोगियों से फीस नहीं ले सकते। एनपीए से जुड़े इस मामले को लेकर चौकाने वाली जानकारी भी सामने आई है। वेतन के अलावा सरकार से एनपीए उठाकर घर पर मरीजों को देखने वाले डॉक्टरों की कई दिनों से जांच पड़ताल की गई तो डॉक्टर अस्पताल के आसपास निजी क्लीनिक व घर पर मरीजों को देख रहे हैं। जब इस मामले को लेकर सीएससी प्रभारी से जानकारी ली गई तो सीएससी प्रभारी ने पत्रकार का फोन उठाना भी मुनासिब नहीं समझा।

सरकार और मरीजों के साथ डॉक्टर कर रहे हैं धोखा

उदयपुरवाटी सरकारी अस्पताल से सनसनीखेज मामला सामने आया है जिसमें अधिकांश डॉक्टर एनपीए उठाकर बाहर मरीजों को देख रहे हैं और मरीजों से मोटी फीस वसूल रहे हैं। अस्पताल में ड्यूटी करने के बाद डॉक्टर अपने घर और निजी क्लीनिक पर मरीजों का इलाज कर रहे हैं।

झूठा शपथ पत्र देकर दे रहे हैं सरकार को दर्द

एनपीए उठाने वाले डॉक्टर मरीजों को नहीं देखने का हवाला व शपथ पत्र देखकर मरीज व सरकार को दर्द दे रहे हैं।

सरकार को कई सालों से लगा रहे हैं डॉक्टर चुना

उदयपुरवाटी सरकारी अस्पताल में एनपीए उठाने वाले डॉक्टर सरकार को कई सालों से चूना लगा रहे हैं सरकार को चूना लगाने वाले डॉक्टरों की जांच हो तो कई लाखों रुपए का राजस्व रिकवर होगा। एनपीए के नाम पर सरकार के साथ-साथ डॉक्टर मरीजों को भी चूना लगा रहे हैं जबकि एनपीए उठाने वाले डॉक्टर किसी भी मरीज से पैसे नहीं ले सकते जबकि अधिकांश डॉक्टर एनपीए उठाकर मरीजों को इलाज करने के नाम पर मोटी फीस वसूल रहे हैं।

कब होगी आखिर सरकार के पैसों की रिकवरी

उदयपुरवाटी सरकारी अस्पताल में कार्यरत अधिकांश डॉक्टर एनपीए उठाकर सरकार को चूना लगा रहे हैं। सरकार आम जनता को चूना लगाने वाले डॉक्टरों से सरकार कब करेगी सरकारी पैसों की रिकवरी। आखिर मामले की गंभीरता से जांच हो तो सरकारी पैसों का दुरुपयोग हुआ मिलेगा और सरकार को रिकवरी के दौरान लाखों करोड़ों रुपए का फायदा होगा।

क्या अब लेंगे अधिकारी मामले को लेकर संज्ञान

आखिर एनपीए उठाकर मरीजों से इलाज के नाम पर मोटी फीस वसूलने वाले डॉक्टरों पर कब लेंगे सरकार और उच्च अधिकारी संज्ञान। क्या कहीं एनपीए उठाने वाले डॉक्टर ऐसे ही तो नहीं करते रहेंगे आम जनता का शोषण।

मुख्यमंत्री झुंझुनू जिले के एक दिवसीय दौरे पर क्या लेंगे सरकार को चूना लगाने वाले डॉक्टर पर एक्शन

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल झुंझुनू जिले के एक दिवसीय दौरे पर भी रहेंगे जहां सरकार के महंगाई राहत कैंप का निरीक्षण करेंगे और कई कार्यक्रमों का उद्घाटन करेंगे। वहीं दूसरी तरफ झुंझुनू जिले के उदयपुरवाटी सरकारी अस्पताल से एनपीए भत्ता उठाने वाले डॉक्टर सरकार के साथ-साथ आम जनता को जख्म दे रहे हैं। और मरीजों से इलाज के नाम पर मोटी फीस वसूल रहे हैं क्या इस पर जिले के एक दिवसीय दौरे के दौरान मुख्यमंत्री मामले को लेकर संज्ञान लेंगे या फिर ऐसे ही एनपीए उठाने वाले डॉक्टर सरकार व आम जनता को चुना लगाते रहेंगे।

क्या कहते हैं जिम्मेदार अधिकारी

उदयपुरवाटी सीएससी प्रभारी डॉ अनिमेष गुप्ता से मामले को लेकर फोन किया गया तो सीएससी प्रभारी ने पत्रकार का फोन उठाना भी मुनासिब नहीं समझा।

अन्य खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!